» लोक सभा चुनाव 2024
Lok Sabha Election / उमर अब्दुल्ला लडे़ंगे बारामूला से चुनाव- फारूक अब्दुल्ला ने किया ऐलान
Go Back | Yugvarta , Apr 12, 2024 09:33 PM
0 Comments


0 times    0 times   

News Image Delhi : 
Lok Sabha Election: जम्मू कश्मीर के क्षेत्रीय पार्टी नेशनल कॉन्फ्रेंस ने अपने 2 उम्मीदवारों के नाम घोषित कर दिए हैं। इसके लिए आज जम्मू-कश्मीर में नेशनल कॉन्फ्रेंस ने प्रेस कांफ्रेंस की, जिसमें जम्मू-कश्मीर नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष डॉ. फारूक अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला समेत पार्टी के कई बड़े नेता मौजूद रहे। इस दौरान डॉ. फारूक अब्दुल्ला ने ऐलान कर बताया कि नेशनल कॉन्फ्रेंस ने दो उम्मीदवारों के नाम तय कर दिए हैं। जिनमें से एक नाम जम्मू कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला का है।
फारूक अब्दुल्ला ने आगे बताया कि "उत्तरी कश्मीर यानी बारामूला से उमर अब्दुल्ला चुनाव लड़ेंगे और सेंट्रल कश्मीर से अग़ा रुहुला चुनाव लड़ेंगे।" जानकारी दे दें कि अग़ा रुहुला (Agha Rouhallah) श्रीनगर से नेशनल कॉन्फ्रेंस के शिया नेता हैं। प्रेस कांफ्रेंस के दौरान उमर ने बीजेपी पर निशाना भी साधा है।
'जमानत जब्त करवा दूंगा'
उमर अब्दुल्ला ने कहा कि अगर बीजेपी दावा करती है कि वह मजबूत है तो आए मैदान में और खुद के उम्मीदवार उतारे न की कठपुतली के दम पर लड़े। और अगर मैंने इस चुनाव में उनकी जमानत न जब्त करवा दी तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा। जम्मू कश्मीर विधानसभा चुनाव को लेकर उमर ने कहा कि ये सुप्रीम कोर्ट का फैसला है, पीएम हम पर कोई मेहरबानी नहीं कर रहे। अगर विधानसभा चुनाव का ऐलान सुप्रीम कोर्ट की दखलअंदाजी से पहले हो जाता है तो ये अच्छी बात होगी। हमारे सांसद पार्लियामेंट में हमारे लोगों के लिए लड़ रहे हैं और हम लड़ते रहेंगे। हमारी लड़ाई किसी अकेले व्यक्ति से नहीं है बल्कि इनके उम्मीदवारों के पीछे जो ताकत है उससे है।
'बीजेपी परिवारवाद से भरी'
उमर ने आगे कहा कि बीजेपी उन परिवारों के खिलाफ नहीं है जिनका तालुक राजनीति से है बल्कि उन परिवारों के खिलाफ है जो बीजेपी के विपक्ष में हैं। बीजेपी परिवारवाद से भरी पड़ी है। आज हम इमरजेंसी में ही जी रहे हैं। इंदिरा गांधी में इमरजेंसी लगाने की हिम्मत थी। आज के हालात उससे भी बुरे हैं, लेकिन हम इसे इमरजेंसी नहीं कर सकते। लोकतंत्र इंदिरा गांधी के समय की तुलना में आज ज्यादा खतरे में हैं। उस समय कोई विपक्ष का नेता गिरफ्तार नहीं हुआ था, लेकिन आज विपक्ष के सारे नेता जेल भेजे जा रहे हैं।
  Yugvarta
Previous News Next News
0 times    0 times   
(1) Photograph found Click here to view            | View News Gallery


Member Comments    



 
No Comments!

   
ADVERTISEMENT




Member Poll
कोई भी आंदोलन करने का सही तरीका ?
     आंदोलन जारी रखें जनता और पब्लिक को कोई परेशानी ना हो
     कानून के माध्यम से न्याय संगत
     ऐसा धरना प्रदर्शन जिससे कानून व्यवस्था में समस्या ना हो
     शांतिपूर्ण सांकेतिक धरना
     अपनी मांग को लोकतांत्रिक तरीके से आगे बढ़ाना
 


 
 
Latest News
चारधाम यात्रा: रील बनाने पर कार्रवाई, 121
Lok Sabha Election / ‘हमारे प्रत्याशी को
वाइस एडमिरल गुरचरण सिंह बने राष्ट्रीय रक्षा
उत्तराखंड: नैनीताल और कैंची धाम जाने वाले
उत्तराखंड सरकार ने किया चारधाम यात्रा के
जामताड़ा में कल्पना सोरेन ने किया चुनावी
 
 
Most Visited
भारत एक विचार है, संस्कृत उसकी प्रमुख
(541 Views )
ऋषिकेश रैली में अचानक बोलते हुए रुक
(521 Views )
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने संभल में किया
(520 Views )
राम नवमी में श्री रामलला का जन्मोत्सव
(507 Views )
MI vs RCB / आरसीबी के खिलाफ
(470 Views )
Lok Sabha Elections / अभी थोड़ी देर
(435 Views )