» प्रमुख समाचार
Lok Sabha Elections / अभी थोड़ी देर में बीजेपी करेगी घोषणापत्र जारी- 'वादों के पिटारे में क्या-क्या', पीएम मोदी उठाएंगे पर्दा
Go Back | Yugvarta , Apr 14, 2024 09:18 AM
0 Comments


0 times    0 times   

News Image Delhi :  Lok Sabha Elections: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मौजूदगी में लोकसभा चुनाव के लिए अपना घोषणापत्र जारी करेगी। पार्टी की ओर से जारी एक आधिकारिक सूचना में यह जानकारी दी गई है। भाजपा अपने घोषणापत्र को संकल्प पत्र का नाम देती रही है। इसका मसौदा तैयार करने के लिए पार्टी ने पिछले दिनों रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में एक समिति गठित की थी। समिति ने कई बैठकों के बाद संकल्प पत्र को अंतिम रूप दिया है।
घोषणापत्र में इन चीजों का हो सकता है जिक्र
घोषणापत्र में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 'विकसित भारत' एजेंडे पर

घोषणापत्र में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 'विकसित भारत' एजेंडे पर ध्यान केंद्रित किए जाने की उम्मीद है। मोदी लगातार गरीबों, युवाओं, महिलाओं और किसानों के लिए अपनी सरकार की प्राथमिकता को रेखांकित करते रहे हैं। सत्तारूढ़ भाजपा अपने घोषणा पत्र में इनसे संबंधित मुद्दों को प्रमुखता दे सकती है।

ध्यान केंद्रित किए जाने की उम्मीद है। मोदी लगातार गरीबों, युवाओं, महिलाओं और किसानों के लिए अपनी सरकार की प्राथमिकता को रेखांकित करते रहे हैं। सत्तारूढ़ भाजपा अपने घोषणा पत्र में इनसे संबंधित मुद्दों को प्रमुखता दे सकती है। अगली सरकार के कार्यकाल में जनगणना और परिसीमन की कवायद होने की संभावना है। ऐसे में राजनीतिक पर्यवेक्षकों की नजर इस बात पर है कि क्या पार्टी अपने घोषणापत्र में इन मुद्दों का उल्लेख करती है या नहीं। परिसीमन को लेकर दक्षिणी राज्यों ने समय समय पर अपनी चिंता प्रकट की है।
'एक राष्ट्र, एक चुनाव' का भी हो सकता है जिक्र
सूत्रों ने बताया कि घोषणापत्र में पार्टी 'एक राष्ट्र, एक चुनाव' के विचार के प्रति अपने समर्थन को रेखांकित कर सकती है। मोदी सहित भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने जनसंख्या नियंत्रण की आवश्यकता पर जोर दिया है। ऐसे में नजर इस बात पर भी होगी क्या वह इस संबंध में कोई नीतिगत उपाय करती है। समान नागरिक संहिता का मुद्दा भी घोषणापत्र में शामिल हो सकता है। भाजपा शासित कुछ राज्यों में इस विषय पर जोर दिया जा रहा है। लोकसभा चुनाव 19 अप्रैल से एक जून के बीच सात चरणों में होने हैं। वोटों की गिनती 4 जून को होगी।
27 नेताओं ने मिलकर बनाया है घोषणा पत्र
केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण, पीयूष गोयल, स्मृति ईरानी, धर्मेंद्र प्रधान, अश्विनी वैष्णव, किरण रीजीजू और अर्जुनराम मेघवाल के अलावा गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र भाई पटेल, उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और पूर्व केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद सहित कुल 27 नेता इस समिति के सदस्य हैं। सीतारमण इस समिति की संयोजक हैं।
  Yugvarta
Previous News Next News
0 times    0 times   
(1) Photograph found Click here to view            | View News Gallery


Member Comments    



 
No Comments!

   
ADVERTISEMENT




Member Poll
कोई भी आंदोलन करने का सही तरीका ?
     आंदोलन जारी रखें जनता और पब्लिक को कोई परेशानी ना हो
     कानून के माध्यम से न्याय संगत
     ऐसा धरना प्रदर्शन जिससे कानून व्यवस्था में समस्या ना हो
     शांतिपूर्ण सांकेतिक धरना
     अपनी मांग को लोकतांत्रिक तरीके से आगे बढ़ाना
 


 
 
Latest News
यूपी के युवाओं के क्रिएटिव स्किल्स को
योगी सरकार लखनऊ में राष्ट्र प्रेरणा स्थल'
अशासकीय विद्यालयों की नियुक्तियों में गड़बड़ी की
इस बार कैंची धाम में बेहतर रही
मुख्यमंत्री धामी ने केदारनाथ धाम में वर्ष
उत्तराखंड में हुए सड़क हादसे पर सीएम
 
 
Most Visited
राम नवमी में श्री रामलला का जन्मोत्सव
(604 Views )
भारत एक विचार है, संस्कृत उसकी प्रमुख
(588 Views )
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने संभल में किया
(561 Views )
ऋषिकेश रैली में अचानक बोलते हुए रुक
(558 Views )
MI vs RCB / आरसीबी के खिलाफ
(551 Views )
Lok Sabha Elections / अभी थोड़ी देर
(525 Views )